ADVERTISEMENTS:

Paragraph on Post Office | India

Read this paragraph in Hindi language to learn about the various services provided by the post office.

बैंक की तरह डाकखाना भी देश की जनता की बचत की राशि को सुरक्षित रखने की सुविधाएं प्रदान करता है । यह एक सरकारी संस्था है । डाकघर छोटी-छोटी बचत के लिये प्रोत्साहित करता है । अत: एक कुशल गृहिणी अपनी छोटी-छोटी बचत को डाकघर के माध्यम से विनियोग कर सकती है ।

डाकघर की विभिन्न बचत विनियोजनायें निम्न प्रकार हैं:

(1) डाकघर बचत बैंक (Post Office Saving Account Bank):

डाकखाने में कोई भी व्यक्ति बचत खाता खोल सकता है तथा समय-समय पर अपने खाते में धन जमा करा सकता है तथा जरूरत पड़ने पर अपना जमा धन निकाल सकता है । डाकखाने में बचत खाता खोलने के लिए एक फार्म भरना पड़ता है जिसमें नाम, पता आदि लिखकर हस्ताक्षर करने पड़ते हैं तथा खाता खोलते समय कम-से-कम 20 रु. जमा करना पड़ता है ।

ADVERTISEMENTS:

डाकघर में बचत खाता खोलने वाले को पास बुक भी दी जाती है । पास बुक में निकाली तथा जमा की गई धनराशि तथा ब्याज आदि का विवरण रहता है । इस खाते में एक व्यक्ति 1,00,000 रु. तथा संयुक्त खाते में, 2,00,000 रु. जमा कर सकता है ।

इस खाते में 4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज मिलता है । इस ब्याज पर आयकर नहीं लगता । एक निश्चित राशि जमा करने पर खाता धारक को चैक बुक की सुविधा भी उपलब्ध होती है । डाकघर में सप्ताह में एक बार से अधिक धन निकालने की सुविधा नहीं दी जाती है, इसके साथ यदि अधिक धनराशि निकालनी हो तो कुछ समय पूर्व सूचना देनी आवश्यक है । डाकघर बचत खाताधारियों को नामांकन की सुविधा भी प्रदान करता है । दुर्भाग्यवश यदि खाताधारी की मृत्यु हो जाये तो खाताधारी के खाते में बकाया धन नामांकित व्यक्ति को मिल जाता है ।


(2) डाकघर मासिक जमा योजना (Post Office Monthly Income Scheme):

इस योजना के तहत एक निश्चित राशि एक साथ एक निश्चित अवधि के लिये जमा कराई जाती है । ब्याज तीन महीने के अन्तराल या एक महीने के अन्तराल पर दी जाती है ।

ADVERTISEMENTS:

यह खाता एकाकी या संयुक्त नाम में खोला जा सकता है । एक जन के खाते में अधिकतम 3 लाख तथा संयुक्त खाते में 6 लाख तक जमा कर सकते हैं । आजकल इस योजना में ब्याज की दर 8% वार्षिक है । धन जमा करने की अवधि 6 वर्ष है । जमा की अवधि पूरी होने पर राशि वापस लेते समय 5% बोनस भी मिलता है । पहले यह बोनस 10% था ।

(3) सावधि जमा योजना (Time Deposit Scheme):

इस योजना में एक निश्चित धनराशि एक निश्चित अवधि के लिये जमा की जाती है । जमा राशि के लिये कोई अधिकतम सीमा निर्धारित नहीं है । ब्याज की दर जमा की गई राशि की अवधि पर निर्भर करती है । समय पूर्ण होने पर  ब्याज की राशि सहित सम्पूर्ण राशि जमाकर्ता को प्राप्त हो जाती है ।

(4) आवर्ती जमा खाता (Recurring Deposits):

100रु. के गुणांकों में धनराशि निश्चित समय पर जमा की जाती है । जमा राशि व ब्याज निर्धारित अवधि पूर्ण होने पर निकाली जा सकती है जिसका समय 5 वर्ष या अधिक हो सकता है । यह योजना 1 अप्रैल, 1970 में शुरू हुई थी ।

ADVERTISEMENTS:




(5) राष्ट्रीय बचत प्रमाण-पत्र (National Saving Certificate (NSC):

यह डाकघर की अत्यन्त लोकप्रिय है । यह पत्र क्रमश: 100 रु. 500 रु. 1000 रु. 5000 रु. या 10,000 रु. के अंकित मूल्य का उपलब्ध है । इसकी कोई क्रय सीमा नहीं है । इसमें 9.5% चक्रवृद्धि ब्याज मिलती है । इसमें जमा करने पर व ब्याज पर आयकर में छूट मिलती है ।

(6) किसान विकास-पत्र (Kissan Vikas Certificate):

यह भी NSC की भाँति उतने ही रुपये का प्राप्त किया जा सकता है । जमा धन राशि आठ वर्ष सात महीने में दोगुनी हो जाती है । इस पर आयकर की छूट नहीं है । इस योजना में अधिकतम राशि निश्चित नहीं की गयी है ।

(7) वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizen Savings Scheme):

यह योजना 2004 में भारत सरकार ने शुरू  की थी । इसकी विशेषताएँ निम्न प्रकार हैं:

i. इसे 60 वर्ष से ऊपर के लोग ले सकते हैं परन्तु सेना में कार्य करने वाले व स्वैच्छिक सेवानिवृत्त लेने वाले व्यक्तियों की आयु सीमा में छूट होती है ।

ii. बचत खाते की अवधि 6 वर्ष की होती है तथा इसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है ।

iii. इस योजना में 8.5% वार्षिक ब्याज दिया जाता है ।

iv. ब्याज हर तीसरे माह में प्राप्त होती है ।

v. ब्याज पर कर देना पड़ता है ।

vi. कर स्रोत से ही काट लिया जाता है ।

vii. निवेश 1000 के गुणज (Multiply) में करना पड़ता है ।

viii. निवेश अधिकतम 15 लाख रु. तक हो सकता है ।

, , , ,

Kata Mutiara Kata Kata Mutiara Kata Kata Lucu Kata Mutiara Makanan Sehat Resep Masakan Kata Motivasi obat perangsang wanita