Tag Archives | Festivals

“Baisakhi and Lohri” in Hindi Language

बैसाखी और लोहड़ी । “Baisakhi and Lohri” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. बैसाखी का महत्त्व । 3. लोहड़ी का महत्त्व । 4. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: बैसाखी तथा लोहड़ी: ये दोनों पंजाब तथा हरियाणा की संस्कृति के विशिष्ट त्योहार हैं । दोनों ही त्योहार अत्यन्त उल्लास व उमंग के साथ मनाये जाते हैं […]

“Holi” in Hindi Language

होली का त्योहार । “Holi” in Hindi Language! 1. भूमिका । 2. होली चेतना व जागति का पर्व । 3. होली का महत्त्व (सामाजिक, वैज्ञानिक, मनोवैज्ञानिक) 4. होली की बुराइयां । 5. उपसंहार । 1. भूमिका: फागुन मास की पूर्णिमा को प्रतिवर्ष मनाये जाने वाला होली का यह पावन त्योहार सर्दी के अन्त और ग्रीष्म […]

“Karvachauth” in Hindi Language

करवा चौथ । “Karvachauth” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. करवा चौथ का महत्त्व एवं कथा । 3. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: भारतीय संस्कृति में व्रत, उत्सव, पर्व का विशेष महत्त्व है; क्योंकि ये हमारे सामाजिक एवं सांस्कृतिक जीवन के विभिन्न अंग हैं । मनुष्य जब असफल, निराश हो जाता है, तो ईश्वर की […]

“Ganesh Chaturthi” in Hindi Language

गणेशोत्सव । “Ganesh Chaturthi” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. गणेशजी से सम्बन्धित पौराणिक गाथाएं । 3. गणेशोत्सव मनाने सम्बन्धी तैयारियां । 4. गणेशोत्सव का महत्त्व । 5. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: उत्सवों के देश भारतवर्ष कोई गाथा अवश्य प्रचलित है । इस तरह गणेशोत्सव मनाने के पीछे जहां कुछ पौराणिक गाथाएं हैं, वहीं […]

“Gurpurab” in Hindi Language

गुरूपर्व । “Gurpurab” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. गुरूपर्व का महत्त्व । 3. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: हमारी धर्म प्रधान भारतीय संस्कृति में गुरु को साक्षात् परमब्रह्म स्वरूप कहा गया है । वैदिककालीन संस्कृति में तो गुरु राजा से अधिक सम्माननीय स्थान प्राप्त करता है । आश्रमकालीन शिक्षा व्यवरथा की सम्पूर्ण आधारशिला गुरु […]

“Maha Shivratri” in Hindi Language

महाशिवरात्रि । “Maha Shivratri” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. शिव का स्वरूप । 3. महाशिवरात्रि का पौराणिक महत्त्व । 4. मनाने की रीति । 5. उपसंहार । 1.प्रस्तावना: भारतभूमि धर्म प्राण-भूमि रही है । यहां के जन-जीवन एवं संस्कृति में 33 करोड़ देवी-देवताओं, सन्त-महात्माओं की पूजा-अर्चना करके अपने धार्मिक भाव को प्रकट करने […]

“Pongal and Onam” in Hindi Language

पोंगल और ओणम का त्योहार । “Pongal and Onam” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. पोंगल और  ओणम का महत्त्व । 3. मनाने की रीति । 4. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: त्योहारों के देश भारत में प्रत्येक त्योहार की अपनी अलग विशेषता है । हर त्योहार अनूठा है, विलक्षण है । चाहे वह होली […]

Kata Mutiara Kata Kata Mutiara Kata Kata Lucu Kata Mutiara Makanan Sehat Resep Masakan Kata Motivasi obat perangsang wanita