Tag Archives | Political Science

भारतीय राजनीति का अपराधीकरण । Criminalization and Indian Politics in Hindi Language

भारतीय राजनीति में आज तीव्र गति से परिवर्तन हो रहा है । आज लोकतंत्र में राजनीति समाज का एक अंग बन गई है । भारतीय लोकतंत्र में भी राजनीति आज पूरी तरह से छाई हुई है । मतदाता ही राजनीति का विकास करता है । सम्पूर्ण सत्ता जनता में निहित रहती है । जहाँ या […]

Demoralization of Politics in Hindi

राजनीति का नैतिक पतन पर अनुच्छेद । Article on Demoralization of Politics in Hindi Language! भारत एक सशक्त लोकतंत्र के रूप में जाना जाता । भारतीय लोकतांत्रिक मूल्यों को यदि थोड़ा आघात भी पहुँचता है तो उसका प्रभाव केवल भारतीय जनता पर ही नहीं अपितु विश्व की समुचित लोकतांत्रिक व्यवस्था पर पड़ता है । स्वतंत्रता […]

“Criminalization of Politics” in Hindi Language

राजनीति का अपराधीकरण । “Criminalization of Politics” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. राजनीति और अपराध का सम्बन्ध । 3. उपसंहार । 1. प्रस्तावना: हमारी संस्कृति में राजनीति को शासन की एक श्रेष्ठ संगठित नीति कहा गया है । इस नीति में राजा या शासक राज्य पर शासन करते हुए एक आदर्श कायम करता […]

“National Unity” in Hindi Language

राष्ट्रीय एकता । “National Unity” in Hindi Language! 1. प्रस्तावना । 2. राष्ट्रीय एकता का अर्थ । 3. राष्ट्रीय एकता के तत्त्व । 4. राष्ट्रीय एकता की बाधाएं । 5. राष्ट्रीय एकता के उपाय । 6. उपसंहार । विभिन्नता में छिपी हुई है, एकता हमारी । भावनाओं में बसी हुई है, एकता हमारी । रंग-रूप […]

Politico-Security Issues in Hindi Language

राजनीतिक एवं सुरक्षा संबंधी समस्याएं | “Politico-Security Issues” in Hindi Language! द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जब संयुक्त राष्ट्र संघ का गठन हुआ तो इसका उद्देश्य था-विश्व में शांति की स्थापना करना । शांति की स्थापना के लिए निरस्त्रीकरण का होना आवश्यक है । निरस्त्रीकरण आधुनिक युग की माँग है । निरस्त्रीकरण तभी हो सकता […]

Merits and Demerits of Imperialism in Political Science

Though today we consider imperialism altogether an evil phenomenon, yet it has had certain supporters from time to time, who were convinced of its advantages. The theories of Fichte, Hegel and Darwin encouraged imperialism. Thinkers like Glossritz, Bernhard, Nietzsche and Treitschke have been the supporters of imperialism. Treitschke said, “The state is the supreme in […]

Kata Mutiara Kata Kata Mutiara Kata Kata Lucu Kata Mutiara Makanan Sehat Resep Masakan Kata Motivasi obat perangsang wanita